आवेदन का नियम

  • मुख्य कार्यकारी अधिकारी, वाराणसी सभी श्रेणियों के लिए आवंटित अधिकारी होगा|
  • आवंटन को अपने अधिकार के रूप में दावा नहीं किया जा सकता है|
  • गेस्टहाउस मुख्य रूप से IDES/सैन्य/रक्षा मंत्रालय तथा अन्य कार्यालय के अधिकारियों के ठहरने के लिए बनाया गया है|
  • छावनी बोर्ड की जरूरतों को पूरा करने के बाद अन्य केन्द्रीय सरकार, राज्य सरकार, अर्धसरकारी निकायों के अधिकारियों को भी कमरा आवंटित किया जा सकता है|
  • कमरे के आवंटन हेतु छावनी द्वारा निर्धारित प्रारूप(जिससे मु.अ.अ. को सम्बोधित करते हुए)भरना होगा|
  • फार्म कार्यालय /गेस्टहाउस में उपलब्ध है| बाहरी लोग फार्म डाउनलोड कर सकते है|और भरने के बाद ०५४२-२५००२१२ पर फैक्स द्वारा भेज सकते हैं| टेलीफोन नम्बर ०५४२-२५०३२१५ या ०७३८८०४०००१ या ०९४१५४४७४१८ पर बात कर पुष्टि की जा सकती है| क्रम संख्या ४ के तहत अतिथियों के लिए बुकिंग केवल सिक्योरिटी मनी जमा करने के बाद ही हो सकती है|
  • IDES अधिकारी/भ्रमण/रक्षा अधिकारी/मंत्रालय के अन्य सभी आगन्तुको को वरीयता दी जाएगी|
  • कोई आवंटन गैर सरकारी यात्राओं के दौरान एक खंड में अधिक से अधिक ७ दिन के लिए किया जाएगा|
  • पूरा गेस्टहाउस, विभाग या अन्य सरकारी अधिकारियों में से किसी भी अधिकारी को आरक्षित नही किया जा सकता है |
  • आवास का आवंटन केवल रहने के लिए किया जाएगा तथा किसी अन्य परिस्थिति जैसे शादी विवाह, महोत्सव, गेट टुगेदर में भी किया जा सकता है|
  • अधिकारी स्वागत कक्ष में प्रवेश करने के बाद अपना नाम, पदनाम, समय व आगमन की तिथि आगंतुक रजिस्टर में दर्ज कराएगा तथा आगमन व प्रस्थान के समय इस पुस्तक पर हस्ताक्षर करना अनिवार्य होगा|
  • शुल्क न्यूनतम एक दिन का देना ही होगा; भले ही आप कुछ घंटे के लिए रूम बुक कर रहे हों|
  • परिसर के अंदर मादक पेय पदार्थ वर्जित है|
  • केवल अधिकृत व्यक्ति ही गेस्टहाउस में रह सकते हैं|
  • आवंटी अपने सामान का ध्यान स्वयं रखें| छावनी किसी भी प्रकार की चोरी के जिम्मेदार नहीं होगा|
  • आवास/स्थान की बुकिग कम से कम दो दिन पूर्व में हो जानी चाहिए और इसके लिए छावनी परिषद कार्यालय में, कार्य समय में सम्पर्क होना चाहिए |
  • प्रत्येक आवासीय कमरों के फर्नीचर ,उनकी किसी प्रकार क्षति को ,उसमे रहने वाले तथा/या नौकर पर अलग से अभियोग लगे |
  • दाखिलकारो से अनुरोध है कि वे बिजली का आर्थिक हित में(जहाँ तक कम सम्भव हो) प्रयोग करे, कमरे में न रहने पर बतियो का प्रयोग न करे तथा कमरों में विद्दुत हीटर या दूसरे विद्दुत उपकरण का प्रयोग न करे|
  • सीरियल नंबर 3 से 5 के अंतर्गत ,दाखिलकारो को जेनेरेटर सुविधा रू.135/- प्रति घंटे या अपने डीजल देय पर उपलब्ध होगी
  • दाखिलकार आवासीय परिसर में किसी भी प्रकार का टेंट /शामियाना या इससे मिलता जुलता कोई अन्य रचना नहीं लगाएगे |आवासीय सुविधा सिर्फ रहने के लिए है , तथा हर हाल में शांतिपूर्ण वातावरण स्थपित रहना चाहिए
  • आवासीय परिसर में किसी भी प्रकार का संगीत नहीं बजना चाहिए ताकि उसमे रहने वाले सहपाठियों को असुविधा न हो
  • ड्यूटी पर तैनात कर्मचारी के अलावा ,दो या तीन कमरों की बुकिंग के लिए पुनः भुगतान सुरक्षा राशि 2500 /- तथा तीन कमरों से अधिक की बुकिंग के लिए पुनः भुगतान सुरक्षा राशि 10,000 होगी |किसी प्रकार की क्षति होने पर इनकी सुरक्षा राशि में से कटौती की जा सकती है
  • दाखिलकार बिना मिटटी के बर्तन का उपयोग किए ,रसोई घर का उपयोग करेगा ,जिसके लिए 250/- प्रतिदिन किराया देना होगा
  • दोहरे दाखिलकार जो ड्यूटी पर तैनात हो किराया 50:50 शेयर करे |किसी भी हालत में एक कमरा दो से अधिक वयस्क को न दिया जायेगा |
  • एक से अधिक कमरों की बुकिग के लिए प्रार्थना पत्र कम से कम 30 दिन पहले होनी चाहिए
  • किसी भी विभागीय अवलोकन के कारण परिषद किसी भी बुकिंग को निरस्त करने का अधिकार रखता है|
  • आवास /स्थान का किराया पहले ही छावनी परिषद के खजाने में जमा होगा
  • उपर्युक्त किसी भी नियम के उल्लंघन पर जमा सुरक्षा राशि से वंचित करते हुए अलग से अर्थदण्ड देय होगा
  • किसी भी प्रकार का झगड़ा होने पर मुख्य अधिशासी अधिकारी ,छावनी परिषद वाराणसी का निर्णय सर्वोपरी होगा